पिंपल्स को प्राकृतिक और स्थायी रूप से हटाने के 7 तरीके

How to Remove Pimples Naturally and Permanently: आज के समय में चाहे वह लड़का हो या लड़की, हर किसी की चाहत हैं कि उसकी स्किन/ चेहरा साफ दिखें परन्तु आजकल की भागदौड़ जीवनशैली और अनियमित खान-पान की वजह से ज्यादातर युवा पिम्पल्स यानि कील-मुहांसों की समस्या से परेशान हैं। ऐसे युवा जिनकी त्वचा ऑयली (तैलीय) हैं उनके चेहरे पर पिम्पल्स निकलने के चांस ज्यादा होता हैं|

पिंपल निकलने से न केवल चेहरा खराब होता हैं बल्कि कई बार असहनीय दर्द भी होता हैं। यहां हम मुहांसे होने के कारण के साथ ही मुंहासे हटाने के घरेलू उपाय के बारे में विस्तार से बतायेंगे। हम आपकों बता दें कि पिम्पल्स के लिए घरेलू उपाय इसका परमानेंट ट्रिटमेंट नहीं हैं, ये केवल इनसे बचाव और इनको कुछ हद तक कम करने का एक प्राकृतिक तरीका जरूर हो सकता है।

पिम्पल के प्रकार (Types Of Pimples)

कॉमेडोनिका (Comedonica):  कॉमेडोन छोटे, स्किन के रंग के या गहरे रंग के मुहान्सें होते हैं। कॉमेडोनल पिम्पल्स के प्रकार ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स होते  हैं। इनके कारण त्वचा के रोम छिद्र बंद हो जाते हैं और त्वचा में जितना तेल जमा होता है, उतना बैक्टीरिया बढ़ने लगता है। इसी वजह से इंफ्लामेटरी एक्ने बनने लगते हैं।

पेपुलर–पुस्टुल्स (Papular-Pustules): ये मॉडरेट यानी मध्यम प्रकार के मुंहासे होते हैं। इस दौरान मुहांसों वाली जगह थोड़ी सुजन आ जाती हैं। इसके साथ ही पिम्पल्स में पीले रंग का पदार्थ जमा हो जाता है, जिसे पुस्टुल्स कहा जाता है।

नोड्यूल्स (Nodules): नोड्यूल्स मुंहासों के दौरान पिंपल में सूजन होने के साथ ही इसमें पीले रंग का पस भी जम जाता है। यह सिवियर यानी गंभीर किस्म के मुंहासे होते हैं।

मुंहासे/ पिम्पल होने के कारण –

अनुवांशिकता

  • मुहांसे होने की समस्या अनुवांशिक हो सकती है।
  • यदि किसी परिवार में किसी को बार-बार पिंपल होते हैं, तो अन्य को भी मुंहासे होने की आशंका बढ़ जाती है।

हार्मोनल बदलाव

  • बढ़ती उम्र के साथ हमारे शरीर में हार्मोनल बदलाव होते हैं।
  • कई बार हार्मोन्स बदलाव की वजह से भी पिंपल हो सकते हैं।
  • विशेषकर महिलाओं को मासिक धर्म, गर्भावस्था और रजोनिवृत्ति के समय शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलावों के कारण पिंपल्स होने की सम्भावना बढ़ जाती हैं।

खानपान के कारण

  • जर्नल ऑफ द एकेडमी ऑफ न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स की ओर से प्रकाशित की गई एक रिपोर्ट के अनुसार  भोजन में ट्रांस फैट, दूध और मछली पिंपल बढ़ाने की वजह हो सकते हैं।

दवाओं के कारण

  • कई बार तनाव, मिर्गी या मानसिक बीमारी से जुड़ी कुछ दवाओं के सेवन से भी मुहान्सें निकल सकते हैं।

कॉस्मेटिक का ज्यादा इस्तेमाल

  • कॉस्मेटिक यानी सौंदर्य प्रसाधनों का अधिक इस्तेमाल भी पिम्पल्स निकलने का कारण बन सकता हैं।
  • जो महिलाएं पूरे दिन मेकअप में रहती हैं और रात को ठीक से मेकअप नहीं उतारती हैं उन्हें इस वजह से भी पिंपल हो सकते हैं।

तनाव

  • ज्यादा तनाव में रहना भी पिंपल्स होने का कारण हो सकता हैं।
  • तनाव की वजह से शरीर में अंदरूनी बदलाव होते हैं, जिस वजह से मुहांसे होने की आशंका बढ़ जाती है।

चेहरे के पिंपल्स प्राकृतिक तरीके से हटाने के तरीके – How to Remove Face Pimples Naturally

1. टी ट्री ऑयल

How to Remove Pimples Naturally and Permanently: टी ट्री ऑयल को आमतौर पर पिंपल के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लामेटरी गुण मौजूद होते हैं| एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक लेख के अनुसार टी ट्री ऑयल में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लामेटरी गुण पाए जाते हैं। इन्हीं गुणों के कारण ही टी-ट्री ऑयल का इस्तेमाल मुंहासे की दवा यानी क्रीम व जेल में भी किया जाता है। इसी वजह से टी-ट्री ऑयल को पिंपल हटाने के घरेलू नुस्खे की तरह इस्तेमाल कर सकते है।

इस्तेमाल करने का तरीका

  • आधे चम्मच एलोवेरा जेल या नारियल के तेल में दो से तीन बूंद टी-ट्री ऑयल को मिलाकर चेहरे पर लगा लें।
  • थोड़ी देर बाद जब पेस्ट सूख जाए तो सादे पानी से चेहरे को धो लें।
  • दिन में दो से तीन बार इस प्रक्रिया को दोहराया जा सकता है।

2. ग्रीन टी

ग्रीन टी में पॉलीफेनोल्स मौजूद होता हैं जो पिम्पल्स को हटाने में सहायक होता हैं। पॉलीफेनोल्स सीबम (त्वचा ग्रंथियों से निकलने वाला तैलीय पदार्थ) को कम करता हैं। जिसके कारण मुहांसे ठीक होने लगते हैं| इसके अलावा ग्रीन टी में एंटी-माइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाये जाते हैं, जो पिम्पल्स से राहत दिलाने में सहायक होते हैं।

इस्तेमाल करने का तरीका

  • रोजाना साधारण टी की जगह ग्रीन टी पियें।
  • ग्रीन टी को गर्म पानीं में कुछ देर के लिए डाल दे।
  • ठंडा होने पर इस पानी से अपना चेहरा धो ले। चेहरे को कपड़े से पोंछे नही।
  • 15 मिनट बाद चेहरे को साफ व ताजे पानी से धो ले।
  • रोजाना 2-3 बार इस प्रक्रिया को करें।

3. एलोवेरा

How to Remove Pimples Naturally and Permanently: पिंपल हटाने का सबसे ज्यादा उपयोग में आने वाला घरेलू उपाय एलोवेरा जेल है। इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटीइंफ्लामेट्री गुण मौजूद होते हैं। ये गुण बैक्टीरिया की वजह से होने वाले पिंपल को पनपने से रोकने के साथ ही इससे होने वाली सूजन को कम करते हैं। एलोवेरा को लेकर एनसीबीआई में मौजूद एक शोध में बताया गया है कि इसमें एंटीसेप्टिक व एंटी-एक्ने गुण भी होते हैं, जो मुंहासों से बचाव कर सकते हैं।

इस्तेमाल करने का तरीका

  • एलोवेरा के पत्ते से ताजा जेल निकालें और चेहरे पर लगा लें।
  • करीब 10-20 मिनट बाद चेहरे को साफ पानी से धो लें।
  • इससे चेहरा साफ होता हैं और स्किन में निखार आता हैं।

4. मुल्तानी मिट्टी

How to Remove Pimples Naturally and Permanently: मुल्तानी मिट्टी भी मुंहासे हटाने का प्राकृतिक उपाय में से एक है। पिम्पल्स त्वचा की तेल ग्रंथियों द्वारा सीबम (तैलीय पदार्थ) बनने की वजह से होते हैं। मुल्तानी मिट्टी त्वचा में बनने वाले इस तैलीय पदार्थ को सोखकर चेहरे पर जमी गंदगी को साफ करती है। इसी वजह से मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल चेहरे पर मुंहासे कम करने के लिए कर सकते हैं। मुल्तानी मिट्टी चेहरे के दाग-धब्बों को भी कम करने में भी सहायक हैं क्योंकि यह त्वचा की गहराई से सफाई करती है|

इस्तेमाल करने का तरीका

  • तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी ले उसमे एक चम्मच शहद और आवश्यकतानुसार गुलाब जल मिलाकर पेस्ट तैयार करें।
  • अब इसे अच्छे से चेहरे पर लगा लें।
  • 15-20 मिनट बाद चेहरे को अच्छे से ताजे पानी से धो लें।

5. हल्दी

हल्दी का उपयोग करके भी पिम्पल्स को हटाया जा सकता हैं। हल्दी में एंटीसेप्टिक, एंटीबैक्टीरियल और हीलिंग गुण मौजूद होते हैं। जिसकी वजह से इसे पिंपल को कम करने के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं। इसके अतिरिक्त हल्दी में करक्यूमिन (Curcumin) पाया जाता है, जो एंटी-इंफ्लेमेटरी के साथ ही एंटीमाइक्रोबियल गुण दर्शाता हैं। हल्दी के ये  गुण पिंपल व मुंहासों को ठीक करने में सहायक होते हैं।

इस्तेमाल करने का तरीका

  • आधे चम्मच हल्दी लेकर उसमे शहद मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें।
  • अब इस पेस्ट को चेहरे पर 20 मिनट तक लगा रहने देना हैं।
  • इसके बाद चेहरे साफ व ताजे पानी से धो लेवें।

6. नारियल का तेल

नारियल के तेल में जीवाणुरोधी यौगिक के साथ ही विटामिन-ई पाया जाता है। इसी वजह से नारियल के तेल का इस्तेमाल पिम्पल हटाने के लिए और पिम्पल्स की वजह से चेहरे पर पड़ने वाले धब्बों के उपचार के रूप में किया जाता है।  इसके अतिरिक्त, नारियल तेल त्वचा को मॉस्चराइज करके मुलायम रखता हैं साथ ही स्किन इंफेक्शन से बचाने में भी सहायक होता हैं।

इस्तेमाल करने का तरीका

  • थोड़ा-सा नारियल का तेल लेकर उसमे शहद को अच्छी तरह से मिला लें।
  • अब इस मिक्सर को चेहरे पर लगा लेवें।
  • 15 – 20 मिनट बाद फेस को गुनगुने पानी से धो लें।

7. शहद और दालचीनी

How to Remove Pimples Naturally and Permanently: शहद और दालचीनी के पाउडर भी मुहांसे हटाने का प्राकृतिक उपाय है। दालचीनी और शहद पिम्पल के बैक्टीरिया से लड़कर पिम्पल को कम करते हैं। शहद और दालचीनी दोनों में एंटीबैक्टीरियल गुण मौजूद होते हैं। इसके अलावा दालचीनी में मौजूद सिनामलडिहाइड केमिकल कंपाउंड में एंटीइंफ्लामेटरी गुण भी होते हैं, जो पिंपल को होने से रोकता हैं।

इस्तेमाल करने का तरीका

  • तीन चम्मच शहद और एक चम्मच दालचीनी पाउडर को मिला कर पेस्ट तैयार करें।
  • अब इस पेस्ट को अच्छी तरह से चेहरे पर लगाएं।
  • इस पेस्ट को सोने से पहले लगाना हैं।
  • रातभर इसे चेहरे पर लगा रहने दें और सुबह गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • कम से कम 15 दिन इसका इस्तेमाल जरुर करें।

Disclaimer :– इस साईट पर उपलब्थ सभी जानकारी और लेख केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए है। यहाँ पर दी गई जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार हेतु बिना किसी योग्य चिकित्सक/ वैद्य या विशेषज्ञ की सलाह के नहीं किया जाना चाहिए| चिकित्सा परिक्षण या उपचार के लिए हमेशा एक योग्य चिकित्सक/ वैद्य या विशेषज्ञ की सलाह लेनी चाहिए।

ये भी पढ़े

शरीर की गर्मी कम करने के लिए अपनाएं ये 8 आयुर्वेदिक उपाय

घर बैठे ब्लड शुगर (डायबिटीज) को नियंत्रित करने के 5 आसान तरीके

Updated: October 28, 2023 — 2:28 PM

12 Comments

Add a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *